आज भी सादगी की मिसाल हैं Leena Chandavarkar

Leena-Chandavarkar

बाॅलीवुड में काम करने वाली अभिनेत्रियांे के लिए ग्लैमरस व बोल्ड होना जरूरी माना जाता है और फिल्मों में बोल्ड सीन की दरकार अमूमन हर अभिनेत्री से की जाती है लेकिन आज हम बात कर रहे हैं एक ऐसी अभिनेत्री की जिसने अपने कैरियर में कभी अश्लीलता का सहारा नहीं लिया और ये नाम है लीना चंदावरकर Leena Chandavarkar का। बाॅलीवुड की बेहतरीन अभिनेत्रियों की जब जब चर्चा चलती है तो लीना चंदावरकर का नाम जरूर आता है। लीना का जन्म 29 अगस्त 1950 को हुआ था। वह कर्नाटक के धारवाड़ में आर्मी ऑफिसर श्रीनाथ चंदावरकर की बेटी थीं। read it

विज्ञापन जगत से हुई शुरूआत

लीना चंदावरकर Leena Chandavarkar ने अपने फिल्मी जगत की शुरूआत विज्ञापनो से की थी। बाद में प्रसिद्ध अभिनेता सुनील दत्त उन्हें सिनेमा की दुनिया में ले आए। लीना चंदावरकर की पहली फिल्म मन का मीत थी जिसमें सुनील दत्त लीना के अपोजिट थे। सिनेमा की दुनिया में लीना ने कभी अपने उसूलों से समझौता नहीं किया। लीना ही एकमात्र ऐसी अभिनेत्री रहीं जिन्होंने किसी भी फिल्म के लिए न तो बिकिनी पहनी और न ही कभी बोल्ड सीन दिया। लीना की सादगी का हर सिनेप्रेमी कायल था।

हादसे ने छीन लिया पहला पति

भले ही रील की दुनिया में लीना चंदावरकर Leena Chandavarkar का जीवन रंगीन रहा हो लेकिन हकीकत में उनका जीवन काफी कष्टप्रद था। भरी जवानी के दिनों में जब लीना करीब 25 साल की थीं तब गोवा के एक रसूखदार राजनीतिक परिवार के सिद्धार्थ बंडोकर से उनकी शादी हो गई लेकिन कुछ दिनांे बाद ही सिद्धार्थ का निधन हो गया और लीना को विधवा होने का दंश झेलना पड़ा।

लीना की जिंदगी में एक नई उमंग बनकर आये किशोर दा।

सिद्धार्थ के जाने के बाद लीना Leena Chandavarkar की जिंदगी में किशोर कुमार एक नई उमंग बनकर आये और लीना के जीवन में व्याप्त सूनेपन को विवाद करके दूर कर दिया। हालांकि दोनों की उम्र में करीब 20 साल का अंतर था लेकिन कहते हैं न चाहत उम्र नहीं देखती। बताया जाता है कि फिल्मी सेट पर काम करते करते दोनों एक.दूसरे के करीब आ गये और लीना खुद से 20 साल बड़े शख्स की चौथी बीवी बनने के राजी हो गईं। बताते चलें कि लीना से विवाह के पहले किशोर कुमार तीन शादियां कर चुके थे और तीनांे ही शादियां उनकी असफल रहीं।