Indira Gandhi शहरी क्रेडिट कार्ड योजना एवं इंदिरा गांधी शहरी रोजगार गारंटी योजना के संबंध में समीक्षा बैठक आयोजित

indira gandhi shahri credit card yojana

भरतपुर। जिला कलक्टर लोकबंधु की अध्यक्षता में राज्य सरकार की फ्लैगशिप इन्दिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड़ योजना indira gandhi shahri credit card yojana एवं इन्दिरा गांधी शहरी रोजगार गांरटी योजना indira gandhi shahari rojgar guarantee yojana की समीक्षा बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित की गई। जिला कलेक्टर लोकबंधु ने शहरी रोजगार की समीक्षा करते हुए डीएलबी द्वारा प्रतिदिन निर्धारित लक्ष्य अनुसार श्रमिक नियोजित करने के निर्देश अधिशाषी अधिकारियों को दिये एवं इन्दिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना की समीक्षा कर विशेष अभियान चलाकर लक्ष्य का 150 प्रतिशत आवेदन प्राप्त करने हेतु सभी नगरीय निकायों को निर्देशित किया है। उन्होंने कम लक्ष्य वाले डे-एनयूएलएम कर्मी, व अन्य कार्मिकों के प्रति असंतोष जाहिर करते हुए कहा कि आपसी समन्वय के साथ काम कर पात्र नागरिकों को अधिक संख्या में योजनाओं से जोड़ने के लिए भरसक प्रयास करें। उन्होंने उक्त दोनों योजनाओं के शाखा प्रभारी एवं समस्त संबंधित कार्मिकों को निर्देशित किया कि वे अपने निर्धारित लक्ष्य को पूरा करने के लिए स्थानीय लोगों के पास जाकर कैम्प लगाकर कार्य प्रगति पर लायें। जिला कलक्टर ने लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों एवं कार्मिकों के प्रति सख्त अनुशासनात्मक कार्यवाही करने के संबंध में नगर निगम आयुक्त को निर्देश दिये। नगर निगम आयुक्त बीना महावर ने पीपीटी के माध्यम से उक्त फ्लैगशिप योजनाओं के बारे में विस्तृत रिपोर्ट प्रस्तुत की। जिला कलक्टर ने समस्त नगर पालिकाओं के अधिशाषी अधिकारियों को इन्दिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना के तहत लंबित ऋण आवेदनों के निस्तारण सहित नये आवेदनों के लिए बैंक के प्रतिनिधियों के साथ समन्वय कर लक्ष्यबद्ध कार्य में प्रगति लाने के निर्देश दिये साथ ही योजना का व्यापक स्तर पर प्रचार-प्रसार करने के निर्देश प्रदान करते हुए जिले की रैंकिंग में सुधार के आदेश दिये। इन्दिरा गांधी शहरी रोजगार गांरटी योजना के अंतर्गत काम करने वाले श्रमिकों को समय पर काम मिले एवं समय पर वेतन मिले, जॉब कार्ड़ के जरिये रजिस्ट्रेशन कर श्रमिकों की संख्या बढ़ाने पर भी जिला कलेक्टर ने निर्देश दिये हैं। जिला कलक्टर ने इंदिरा गांधी रोजगार गारंटी योजना के तहत अब तक अप्रारम्भ, पूर्ण व प्रगतिरत कार्याें पर अपडेटेड रिपोर्ट सबमिट करने को कहा व प्रगतिरत कार्यों को पूर्ण करने एवं अप्रारम्भ कार्यों को जल्द प्रारम्भ करने या उपयुक्त कारण सहित सूची से हटाने के निर्देश दिये। बैठक में नगर निगम आयुक्त बीना महावर, नगर पालिकाओं के अधिशाषी अधिकारी, एसबीआई बैंक, पीएनबी बैंक, बैंक ऑफ बड़ौदा के प्रतिनिधी एवं अन्य अधिकारीगण मौजूद रहे।